Let’s travel together.

Meri love Story in Hindi – Arun

0 3

romantic-Love story

दोस्तों Love भी अजीब चीज होती है, चाहने वाला जब पास रहता है तो कदर नहीं होती और जब दूर चला जाता है, तो अजीब सी बैचेनी होती है। कुछ ऐसा ही हाल Arun का था, वो स्वीटी से बहुत Love करता था। स्वीटी अपने नाम की तरह ही बहुत स्वीट थी, हसमुख और दुसरो को भी हसाने वाली, दोनों की मुलाकात एक कंपनी में हुई थी, स्वीटी अपना ग्रेजुएशन कम्प्लीट की ही थी की उसके माँ-बाप उसकी Marriage की बात घर में शुरू कर दिए और वो अभी Marriage नहीं करना चाहती थी,इसलिए उसने अपने माँ-बाप को बोलै वो शहर जा कर JOB करना चाहती है, लेकिन उसके माँ-बाप तैयार नहीं हो रहे थे,काफी मन्नते करने के बाद उसके माँ-बाप ने हामी तो भर दी लेकिन Condition ये रख दिया की JOB सरकारी होनी चाहिए या फिर बैंक की ।

स्वीटी JOB के लिए शहर आयी और सरकारी JOB के लिए तैयारी करने लगी, 2 -3 बार उसने Exam भी दिया लेकिन वो सफल नहीं हो पायी अब उसे टेंशन होने लगी की उसको घर जाना पड़ेगा और Marriage करनी पड़ेगी,इसी टेंशन में उसकी एक दोस्त ने बताया की Arun प्राइवेट बैंक में जॉब लगवाता है, वो इसी उम्मीद में Arun से मिली की उसका जॉब वो प्राइवेट बैंक में लगवा देगा,Arun से माइन के बाद Arun ने बताया की वो प्राइवेट बैंक में JOB लगवा तो देगा लेकिन पहले 1 महीना ट्रेनिंग लेनी होगी उसके बाद JOB होगा, और जॉब बैक डोर से होगा,इसलिए 60 हजार रूपये भी लगेंगे,अब स्वीटी परेशान हो गयी की इतना पैसा कहाँ से लाऊंगी,इसलिए उसने अपने पापा से Arun की बात करवाई,Arun ने उसके पापा से बात की और इधर-उधर का खर्चा और ट्रेनिंग का खर्चा बता कर 60 हजार स्वीटी के पापा से माँगा, स्वीटी के पापा ने पैसा दे दिया और स्वीटी की ट्रेनिंग शुरू हो गयी |

ट्रेनिंग के दौरान ही स्वीटी को पता चला की Arun सिर्फ रात में खाना खाता है,वो भी खुद से बनाता है, अब स्वीटी दो टिफिन लाने लगी,एक टिफिन अपने लिए और दूसरा Arun के लिए,दिन में अपने ही टिफिन में Arun को खिलाती थी और दूसरा रात के लिए दे देती थी,Arun बहुत खुश हुआ और स्वीटी के करीब जाने लगा,स्वीटी भी Arun के करीब आ गयी और दोनों एक साथ रहने के सपने देखने लगे ।

वक्त बीतता चला गया और और वो दिन भी आ गया जब स्वीटी को बैंक में इंटरव्यू देना था,इधर स्वीटी ने अपने पापा को बता दिया की उसका JOB बैंक में हो गया है, उसके घर वाले बहुत खुश हुए और स्वीटी के पापा ने स्वीटी का उदाहरण अपने परिवार और आस-पास के लोगो को देना शुरू किया की शहर जा कर वो काफी मेहनत की और आज वो बैंक में JOB कर रही है,स्वीटी के घर वाले भी स्वीटी को फोन के पूछते रहते थे की JOB कैसा चल रहा है और स्वीटी झूठ बोलती थी की अच्छा चल रहा है,इसी उम्मीद में की आज नहीं तो कल उसका JOB बैंक में हो ही जायेगा,लेकिन इंटरव्यू वाले दिन स्वीटी का इंटरव्यू नहीं हुआ क्योंकि Arun. जिसके जरिये बैंक में जॉब करवाता था |

उसने अचानक मना कर दिया अब तो Arun परेशान हो गया क्योंकि स्वीटी का दिया हुआ पैसा भी खर्च कर दिया था और उसका जॉब भी नहीं करवा पा रहा था। काफी मश्कत के बाद भी Arun स्वीटी का किसी भी बैंक में JOB नहीं लगवा पा रहा था,अब वो क्या करे उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था, इधर स्वीटी झूठ बोल बोल कर परेशान हो गयी थी,उसकी परेशानी तब बढ़ गयी जब उसके पापा ने उसके लिए एक बढ़िया रिश्ता भी तय कर दिया था क्योंकि स्वीटी बैंक में JOB कर रही थी।अब क्या करे स्वीटी को समझ नहीं आ रहा था,इसकी वजह से जहाँ स्वीटी और Arun के रिश्ते प्यार से भरे हुए थे वहीँ बहुत ज्यादा कड़वाहट आ गयी थी उनके रिश्तो के बीच, ना चाहते हुए भी स्वीटी ने Arun से रिश्ता तोड़ लिया और वो अब Arun से पैसा मांग लिया जहाँ दोनों एक साथ जिंदगी बिताना चाहती थी वहीँ दोनों एक दूसरे से जुदा हो गए । आज Arun से जब स्वीटी के बारे में पूछता हूँ तो वो बोलता है वो कौन थी?

Agar Ap apna koi True Real Story Share karna chahte hai jo ki  meri website Post Real Story pe dikhegi to ap mughe apani Real Story info@postrealstory.in pe send kr sakte hai.

Leave A Reply

Your email address will not be published.