Let’s travel together.

Hindi Story अकबर बीरबल के किस्से – बीरबल ने सुनाया अकबर को दुनिया की सबसे अच्छी कहानी

0 197

हेलो दोस्तों कैसे हो आप लोग मेरा नाम pooja sharma हे आज मै आप लोगो के साथ  स्टोरी शेयर करनी चाहती हु| मै थैंक्स बोलना चाहती हु postrealstory.in को जिन्होंने मेरी  स्टोरी ऑनलाइन पब्लिश करने के लिए सहमति दी हे | दोस्तों अगर आप लोगो के पास भी कोई रियल स्टोरी हे और ऑनलाइन पब्लिश करना चाहते हो तो आप info@postrealstory.in पर कांटेक्ट करे |

तो चलो दोस्तों स्टार्ट करते हे स्टोरी

बादशाह अकबर को कहानी सुनना बहुत पसंद था। रोज रात को कहानी सुने बिना उन्हें नींद नहीं आती थी।कहानी सुनाने के लिए किसी-न-किसी दरबारी को महल में बुलाया जाता था। प्रत्येक व्यक्ति को बिल्कुल नई कहानी सुनानी पड़ती थी।

एक रात बीरबल की बारी आई। उन्होंने सोचा कि हर बार नई कहानी कहाँ से लाई जाए। बादशाह की यह आदत छुड़ानी पड़ेगी। बीरबल रात में अकबर के कक्ष में पहुँचे। बादशाह उनकी प्रतीक्षा क्र रहे थे। उन्होंने कहा, आओ बीरबल, आज हमको कोई नई और लंबी कहानी सुनाओ। आज हम बहुत बेचैन हैं।

बीरबल आराम से बैठ गए और कहानी सुनाने लगे, हुजूर, एक गावँ में एक मालदार किसान रहता था। एक बार उसने मिस्त्रियों को बुलाया और उन्हें एक बड़ा कोठरी बनाने की आज्ञा दी।

वह चाहता था कि कोठरी सब तरफ से बंद हो। उसमें कही से भी हवा न जा सके। उसमें खिड़की दरवाजें भी न हो। इस बार जब फसल काटी गई तो किसान ने सारा गेहूँ कोठरी में भरवा दिया।

किन्तु एक समस्या पैदा हो गई। मिस्त्री की गलती से कोठरी की एक एक दीवार में एक छोटा-सा छेड़ छूट गया। एक गौरैया आई, वह कोठरी में घुसी और गेहूँ का एक दाना लेकर फुर्र से उड़ गई।

अकबर ने पूछा, फिर क्या हुआ ?

बीरबल ने आगे बताया, फिर एक गौरैया आई, कोठरी के अंदर गई और गेहूँ का एक दाना लेकर फुर्र से उड़ गई। फिर?

फिर एक और गौरैया आई, कोठरी के अंदर गई और एक दाना लेकर उड़ गई।

इस प्रकार बीरबल ने पचास गौरैयों का किस्सा सुना डाला कि कैसे वे अंदर गई और अपनी चोंच में गेहूँ का एक दाना लेकर उड़ गई। अकबर ने बीरबल को रोकते हुए कहा, अब बहुत सारी गौरैया दाना लेकर उड़ चुकी। आगे की बात बताओ।

जहाँपनाह वहां तो हजारों गौरैया थी। मैंने तो अभी सिर्फ पचास का हाल सुनाया है। जब तक सारा कोठरी खाली न हो जाएगा, कहानी इसी प्रकार चलती रहेगी।

हो सकता है इसको खाली होने में की महीने लग जाएं। की साल भी लग सकते हैं। अकबर ने बीरबल को रोका, बस, बस बीरबल! बंद करो यह कहानी, हमे नींद आ रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.