Let’s travel together.

अकबर बीरबल के किस्से – सबसे बड़ा वेवकूफ कौन – Hindi Story?

0 14

एक बार बादशाह अकबर ने बीरबल से कहा कि वे उनके राज्य में पांच सबसे बड़ा वेवकूफ को तलाश कर उनके कोर्ट में एक महीने के भीतर प्रस्तुत करें। ठीक एक महीने बाद बीरबल दो व्यक्तियों के साथ दरबार में उपस्थित हुए। अकबर यह देखकर क्रोधित हुए और बोले -‘मैंने तो पांच व्यक्तियों को लाने को कहा था ,फिर दो ही क्यों ?’बीरबल ने अनुनय भरे शब्दों में कहा -‘मुझे एक एक कर उन्हें प्रस्तुत करने का मौक़ा दे। ‘महाराज ,यह आदमी जब अपनी बैलगाड़ी से जा रहा था तब इसने अपना सामान अपने सिर पर डाल रखा था क्योंकि वह अपने बैलों को आघात नहीं पहुँचाना चाहता था। यह पहला वेवकूफ है। दूसरे व्यक्ति की तरफ इशारा करके बीरबल ने कहा ,-‘यह जो दूसरा वेवकूफ है उसके छत पर घास उग आये थे। और यह वेवकूफ अपनी गाय को छप्पर पर चढ़ने को विवश कर रहा था ताकि वह इन घासों को चर सके। जैसे कॉर्पोरेट जगत में कोई अव्यवाहरिक टार्गेट निर्धारित कर दे और औरों को इसे पूरा करने को मज़बूर करे। चाहे वे इसके लिए समक्ष ना हों। बीरबल फिर बोले -महाराज ,’अपने राज्य के लिए बहुत सारे जरूरी काम करने थे ,पर मैंने उन कामों की उपेक्षा कर वेवकूफों की तलाश में कीमती वक़्त वर्वाद कर दिया। इसलिए तीसरा वेवकूफ मैं ही हूँ।

बीरबल कुछ पल के लिए रुके ,फिर उन्होंने कहा -माफ़ी चाहता हूँ महाराज ,आप महाराज हैं ,इस लिहाज से प्रजा के सर्वांगिक भलाई के लिए जिम्मेवार हैं। आपकी सहायता के लिए कुशल और बुद्धिमान लोगों की जरूरत है जो राज्य की भलाई करने में आपकी मदद कर सके ऐसे बुद्धिमान सलाहकारों को ढूंढने की वजाय आपने मुझे सबसे बड़े वेवकूफों को खोजने में लगा दिया। मेरे अनुसार चौथे वेवकूफ आप हैं। जो शासक खराब होते हैं ,वे कमजोर नीतियां बनाते हैं और अपने अधीनस्थों को अंधभक्त की तरह अनुसरण करने को कहते हैं। और महाराज ,जो भी लोग जो अपने सारे जरूरी कामों को छोड़कर। अपने परिवार के जरूरी आवश्य्कताओं को नज़रअंदाज कर यह जानने को उत्सुक रहते हैं कि पाँचवाँ सबसे बड़ा वेवकूफ कौन है वही पांचवां वेवकूफ हैं। .इस सम्बन्ध में महाराज की क्या राय है ?,बीरबल ने बड़े ही संजीदगी से पूछा। बादशाह अकबर ने जवाब दिया -‘इसे सार्वजनिक रूप से तुरत अवगत कराया जाय। ‘

Leave A Reply

Your email address will not be published.