Let’s travel together.

उसकी आँखे मुझसे कुछ कहना चाह रही थी | A Real Love Story in Hindi

0 8

Real Love story

बात उस समय की है जब मैं Institute में पढ़ रहा था, उसी Institute में मेरी Senior एक दिन मेरे साथ लैब में बैठी हुई थी, और Drawing बना रही थी, उसकी Drawing देख कर मैं ख़ुशी से बोला की ये Drawing आपने बनाया है, उसने भी तुरन्त बोला तुम्हे क्या लगता है ? मैंने भी बोला Penting  बहुत अच्छी है। वो मुसकुरा कर रह गयी। अगले दिन वो फिर लैब में नजर आयी, और इस बार दूसरी Penting  के साथ, मेरे मुह से अनायास ये निकल गया की ये Penting कल वाली Penting से भी अच्छी है। इस तरह हमारी बात-चीत शुरू हुई। चुकी वो मेरी Senior थी, इसलिए मैं उससे खुल कर बात नहीं कर पा रहा था। लेकिन वक्त के साथ साथ हमारी बात-चीत भी बढ़ती चली गयी। एक दिन सभी Senior उससे पार्टी मांग रहे थे, मैं भी पहुँचा, मैंने पूछा किस बात की पार्टी ली जा रही है, तो एक Senior ने बताया की आज उसका बर्थडे है। मैंने भी बर्थडे का विश कर दिया। अब सभी पार्टी का मांग कर रहे थे,

तभी लड़की ने बोला की अगर मैं पार्टी का मांग करू तो वो पार्टी देगी।अब तो सभी Senior मेरी तरफ देखेने लगे, मुझे थोड़ा अजीब लगा की मैं जूनियर हो कर कैसे पार्टी की मांग करू? और Senior सोच रहे थे की ये जूनियर कैसे हमारी क्लासमेट के नजदीक पहुँच गया? अब Senior ने मुझसे कहा तो मैंने लड़की से कह दिया की पार्टी दे दीजिये । इस पर लड़की ने कहा मेनू भी मुझे ही सेलेक्ट करना है, अब तो..

Senior मेरे पर गुस्सा करने लगे, खैर पार्टी हो गयी, और मैं सोचता रह गया की आखिर मुझे इतना इम्पोर्टेंस क्यों दिया गया? फिर उसका क्लास खत्म हो गया, लेकिन ना ही मैं उससे कुछ कह पाया ना ही उस लड़की ने मुझे कह कहा, लेकिन हमेशा मुझे ऐसा लगा की उसकी आँखे कुछ कहना चाहती है, लेकिन जुबान नहीं कह पाए। काफी दिनों के बाद एक दिन अचानक वो लड़की मुझे बाजार में नजर आयी तो हमारी निगाहें आपस में टकराई, और हम दोनों एक दूसरे के पहचान गए, वो लड़की मेरे तरफ आगे बढ़ रही थी, लेकिन ये क्या उसकी मांग सिंदूर से भरी थी, मतलब उसकी शादी हो गयी थी, और मैं भी बढ़ते-बढ़ते अचानक रुक गया और एक फिंकी से मुसकुराहट देते हुए आगे बढ़ गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.